Pitra Dosh in Hindi

Pitra Dosh in Hindi

पितृ दोष क्या है?

जब व्यक्ति अपने मृत परिजनों का अंतिम संस्कार विधि पूर्वक नहीं करता है तब मृत परिजन उसे व्यक्ति से क्रोधित हो जाते है। उनके क्रोध के कारण उसे बहूत सारे संकटों का सामना करना पडता है। इसे ही पितृ दोष कहा जाता है।

उस व्यक्ति की आने वाली पीढ़ी भी इस दोष से वंचित नही रह पाती है। मान्यता है जो लोग पितृ दोष से पीडित होते है उनके मृत पुर्वज पृथ्वी पर आकर उन्हे पीडित या सजा देते है।

Pitra Dosh in Hindi

Pitra Dosh in Hindi

उनके घर धन टिकता नही है। घर में द्ररिदता का वाश रहता है। जब भी पितृ दान करे तो घर के सबसे बडे या सबसे छोटे सदस्य से करना चाहियें तभी पितृ दान लाभकारी होता है अन्यथा पितृ दान लाभकारी होता है।

पितृ दोष के प्रभाव

पितृ दोष के कारण किसी की जिंदगी में कितनी समस्यायें आती हैं आइये जानते है:

  1. अपनी जिंदगी में उसे अनेक प्रकार की परेशानी का सामना करना पडता है।
  2. अनेक प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा भी आपकी परेशानी को बढाती है।
  3. आप को अपने व्यापारिक जीवन में ज्यादा सफलता नही मिल पाती है।
  4. आपके विवाह में देरी हो सकती है या पितृ दोष के कारण आप विवाह से वंचित सकते हैं।
  5. जीवन में असंतुष्टता बनी रहती हैं।
  6. वैवाहिक जीवन कष्टदयी हो सकता है। आपके जीवनसाथी व आपके बीच कई सारे विचारिक मतभेद का सामना करना पड सकता है।
  7. आपके बच्चे मानसिक व शारीरिक परेशानी से जूझ सकते है।
  8. आपको संतान से संबंधित कई सारी परेशानी का सामना करना पड सकता है।

पितृ दोष निवारण मंत्र

इस मंत्र रोज 3 बार जरुर पढें। यह एक आसरकारी मंत्र है जो पितृ दोष के प्रभाव को कम करता है।

I ओम पोतराभय देवतभाय माहायोगीभयचै च I

II नम: स्वाह स्वाधयये च नितयामेव नम: II

पितृ दोष के उपाय

आइये जानते है पितृ दोष से कैसे मुक्ति पायेँ। अगर आप पितृ दोष से पीडित है तो जरुर इन उपायों को अपनाये। ये आपको जरुर राहत देगें। आपकी जिंदगी को खुशहाली से भर देगें। जीवन में आ रही परेशानी को भी दूर करेगें।

पितृ शुक्त पुजा

पितृ शुक्त पुजा पितृ दोष को कम करने के लिये सबसे असरकारी उपायों में गिनी जाती है। सभी प्रकार के पितृ दोष से मुक्ती पाना चाहते है तो पितृ शुक्त पुजा जरुर करवायें।

इस पुजा के द्वारा मृत परिजनों से मांफी मांगी जाती है जिससे मृत परिजन प्रसन्न हो जाते है। और अपनी कृपा दृष्टि हमेशा हम पर बनाये रखते है।

श्राद्ध पूजा 

श्राद्ध वाले दिनों में आप मृत परिजनों का शराद करते है तो पीडित व्यक्ति पितृ दोष से मुक्त हो जाता है। पितृ प्रसन्न हो जाते है। जिंदगी में खुशहाली जाती है।

पितृदान 

पितृदान भी एक आसरकारी उपाय है इसमें गाय, कुत्तों व गरीबों को खाना खिलाया जाता है। ब्रहामणों को दान में कपडे व धन दिये जाते है जिसे मृत पुर्वज खुश होते है और अपना आशीर्वाद आप पर हमेशा बनाये रखते है।

अगर आपको जानना हैं की आपकी कुंडली में पित्र दोष हैं की नहीं ? या पित्र दोष के उपाय जानना चाहते हैं तो हमें भेजें अपना नाम, जन्मतिथि समय और स्थान के साथ, हम कुंडली देखकर आपको सारी जानकारी उपलब्ध कराएँगे।