Kumari Puja

Kumari Puja

कुमारी पूजा कामाख्या देवी

महातीर्थ कामाख्या में महामाया कुमारी के रूप में विद्यमान है, कुमारी पूजा कामाख्या मंदिर के एक बहुत ही महत्त्वपूर्ण पूजा विधान है, और ये कुमारी पूजा सिर्फ कामाख्या मंदिर में ही की जाती है अन्य किसी मंदिर में नहीं ।

Kumari Pujaयहाँ कुमारी पूजा करने से सर्व देव देवी की पूजा करने का फल प्राप्त होता है । भक्ति भाव और कर्त्तव्य बुद्धाय कुमार पूजा करने से अवश्य पुत्र, धन, पृथ्वी, विद्या आदि का लाभ प्राप्त होता है ।

योगिनी तंत्र में भी कहा गया है :

सर्वविद्यास्वरूपा हि कुमारी नात्र संशयः ।

एकहि पूजिता बाला सर्वं हि पूजितं भवेत् ।।

अर्थात कुमारी सर्वविद्यास्वरूपा है, इसमें कोई संदेह नहीं है, एक कुमारी पूजा करने से संपूर्ण देवी-देवताओं की पूजा का फल प्राप्त होता है ।

कुमारी पूजा 1 साल से लेकर 15 साल तक की बालिकाओ की करवा सकते है, ऐसा माना जाता है की छोटी बालिकाओं में देवी दुर्गा का वास होता है, इसलिए आप देवी दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए कुमारी पूजा करवा सकते है ।

कुमारी पूजा से लाभ :

कुमारी पूजा से निम्न लाभ प्राप्त होते है :

  • किसी भी प्रकार की कठिनाई दूर होती है,
  • ऊपरी बाधा-भूत प्रेत की समस्या समाप्त होती है,
  • स्वास्थ्य अच्छा होता है,
  • बालिकाओं को होने वाली समस्याओं का निवारण होता है,
  • कार्य और शिक्षा में प्रगति होती है,
  • धन और नौकरी के मार्ग खुलते है,

अगर आपको कुमारी पूजा करवानी है कामाख्या मंदिर में तो हमसे संपर्क करे , हम नाम, जन्मतिथि और गोत्र के आधार पर कुमारी पूजा संपन्न करवाते हैं ।