Kamakhya Yantra in Hindi

Kamakhya Yantra Puja

Click to Read Kamakhya Yantra in English

कामाख्या यन्त्र क्या होता है?

कामाख्या यन्त्र पीतल धातु का बना हुआ यन्त्र होता है, क्योंकि माता कामाख्या का कोई निश्चित मुख नहीं है इसलिए इस यन्त्र का उपयोग माता कामाख्या की किसी भी पूजा में किया जाता है ।

इस यन्त्र पर एक विशेष आकृति बानी हुई है और इस पर माता कामाख्या का बीज मंत्र और प्रणाम मंत्र लिखा हुआ है, इस यन्त्र को आप किसी भी पूजा में स्थापित कर सकते है, इस यन्त्र की पूजा करने से आपको माता कामाख्या का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

आप माता कामाख्या का यन्त्र कनेर की कलम और अष्टगंध या गोरोचन की सहायता से भोजपत्र पर भी बनवा सके है और फिर इसे सोने या चांदी ले ताबीज़ में या फ्रेम में रखकर धारण या स्थापा कर सकते हैं।

कामाख्या यन्त्र से लाभ

यदि आप कामाख्या यन्त्र का प्रयोग करना चाहते हैं तो आपको निम्न लाभ प्राप्त हो सकते हैं :

  • कामाख्या यन्त्र कामाख्या बीज मंत्र और प्रणाम मंत्र से सिद्ध होता हैं जिस से की आपको मन चाही सफलता मिलती है
  • यह यन्त्र सभी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा को अवशोषित करता है और सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह करता है
  • यह भूत प्रेत या किसी भी ऊपरी बाधा से रक्षा करता है
  • यह यन्त्र विद्यार्थियों के लिए बहुत ही लाभकारी है यह उनकी स्मरण शक्ति बढ़ाता है और हर प्रकार के भय से मुक्त करता है
  • यह यन्त्र सिद्ध करने के पश्चात सम्मोहन और रिलेशनशिप के लिए भी प्रयोग किया जाता है
  • यदि आपकी दूकान या व्यापार सही नहीं चल रहा है तो इस यन्त्र की पूजा कर के स्थापित करने से लाभ प्राप्त होता है

Kamakhya Yantra

कामाख्या यन्त्र का प्रयोग या पूजन कैसे करें ?

कामाख्या यन्त्र को आप निम्न तरीके से स्थापित या प्रयोग कर सकते हैं

  • कामाख्या वस्त्र को आप शुक्रवार या सोमवार के दिन से ही करें
  • सर्वप्रथम स्नान करने बाद अपने मंदिर के सामने बैठ जायें और लाल कपड़ा बिछाकर कामाख्या यन्त्र रख दें
  • अब इस यन्त्र पर कामाख्या जल या गंगाजल छिड़क कर शुद्धि कर लें
  • फिर गोरोचन या कुमकुम की सहायता से यन्त्र के चारो कोनो में तिलक करें
  • कामाख्या बीज मंत्र का जाप 108 बार करें
  • अब कलावा लेकर यन्त्र को चारो तरफ से बांध दें
  • फिर इसे अगर मंदिर में स्थापित करना चाहते हैं तो स्थापित कर दें
  • अगर ऑफिस में स्थापित करना हो तो कर सकते हैं
  • यन्त्र को पूर्व दिशा में पश्चिम की तरफ मुख करके स्थापित करें
  • आप इस यन्त्र को कही भी टाँग सकते हैं जैसे की घर में, वाहन में, ऑफिस में , दूकान में, पढाई वाले कमरे में इत्यादि

कामाख्या बीज मंत्र:

कामाख्या का बीज मंत्र “क्षौं” है,

आपको कामाख्या यन्त्र का पूजन करते समय इस मंत्र का जाप करना है

ह्रीं क्लीं कामाक्ष्ये नमः”

कामाख्या यन्त्र को कैसे प्राप्त करें ?

  • यदि आप भारत में ही हैं तो आप इसको दो तरीको से प्राप्त कर सकते हैं, पहला इसकी कीमत हमारे अकाउंट में डलवा कर दूसरा लिंक द्वारा अपने एटीएम, नेट बैंकिंग या क्रेडिट कार्ड से पेमेंट कर के ।
  • और यदि आप भारत के बाहर से हैं तो आप इसकी कीमत वेस्टर्न यूनियन से ट्रांसफर करके सिन्दूर को प्राप्त कर सकते हैं, भारत से बाहर भेजने के लिए कूरियर चार्जेज भी लगेंगे ।

किसी भी जानकारी के लिए निचे दिए गए फॉर्म से अपनी डिटेल भेजे हम आपको संपर्क करेंगे ।

Kamakhya Sindoor in Hindi

Kamakhya Vastra in Hindi

Kamakhya Jal in Hindi

Kamakhya Kada in Hindi

Kamakhya Kit in Hindi