Kamakhya Sindoor in Hindi

Kamakhya Sindoor in Hindi

Click to Read Kamakhya Sindoor in English

कामाख्या सिन्दूर माँ कामाख्या देवी मंदिर से प्राप्त होने वाला प्रसाद है जो की हर साल अम्बुबाची महीने में प्राप्त होता है, अम्बुबाची (अम्बुबासी) मेला हर साल जून महीने में लगता है और मंदिर के दरवाजे तीन दिन तक बंद होने के बाद प्रसाद के रूप में कामाख्या सिन्दूर लोगो को वितरित किया जाता है ।

कामाख्या सिन्दूर की पहचान क्या है ?

कामाख्या सिन्दूर को आप निम्न तरीको से पहचान सकते हैं:

  • कामख्या सिन्दूर पत्थर के रूप में होता है,
  • कामाख्या सिन्दूर पाउडर के रूप में नहीं होता है,
  • कामाख्या सिन्दूर का रंग लाल और काला मिला हुआ होता है,
  • इस का रंग सिन्दूर के रंग का बिलकुल नहीं होता है,

Kamakhya Sindoor in Hindi

कामाख्या सिन्दूर के फायदे क्या हैं ?

कामाख्या सिन्दूर के बहुत सरे फायदे हैं आप अपने मनोवांछित फल को प्राप्त करने के लिए इसे उचित मंत्र से सिद्ध करके आप प्रयोग कर सकते हैं, कामाख्या सिन्दूर के निम्न फायदे हैं :

  • शादी की हर समस्या का समाधान होता है
  • शादी में हो रही देरी को समाप्त करता है
  • कुंडली में मौजूद दोष के प्रभाव को समाप्त करता है
  • व्यापार में आ रही परेशानियों को समाप्त करता हैं और नए रास्ते खोलता है,
  • अगर आप का कर्ज हो गया हैं तो इसको भी दूर करने में मदद करता है,
  • धन सम्बंधित किसी भी समस्या का निवारण करता है,
  • कोर्ट केस या किसी अन्य क़ानूनी मामलो में अत्यंत सहायता करता है,
  • प्यार में आ रही किसी भी समस्या का निवारण करता है,
  • भूत प्रेत, नजर दोष, काला जादू इत्यादि को दूर करता है और रक्षा करता है
  • शिक्षा या नौकरी में आ रही परेशानियों को समाप्त करता है,
  • स्वास्थ्य सम्बंधित हर समस्या का समाधान होता हैं कामाख्या सिन्दूर के द्वारा
  • वशीकरण या सम्मोहन में भी लोग इसका प्रयोग करते हैं

कामाख्या सिन्दूर का प्रयोग कैसे करें?

कामाख्या सिन्दूर को आप निम्न प्रकार से प्रयोग कर सकते हैं :

  • कामाख्या सिन्दूर को पीस कर पाउडर बना ले और और सामग्रियां मिलाकर इसका तिलक करें,
  • सिद्ध कामाख्या सिन्दूर को पीस कर इसको शरीर पर लगा सकते हैं, किसी भी स्वास्थ्य सम्बंधित परेशानी के लिए
  • सिद्ध कामाख्या सिन्दूर को पीस कर सामान्य सिन्दूर के साथ मिलाकर महिलाएं अपने मांग में लगा सकती हैं
  • पत्थर कामाख्या सिन्दूर को मंदिर में स्थापित करके पूजा अर्चना कर सकते हैं
  • पत्थर कामाख्या सिन्दूर को उचित मंत्रो से सिद्ध करके ताबीज़ में डालकर धारण कर सकते हैं

कामाख्या देवी का मंत्र :

“कामाख्याये वरदे देवी नीलपावर्ता वासिनी । त्व देवी जगत माता योनिमुद्रे नमोस्तुते ।।”

“कामाख्ये काम संपने कामेश्वरी हरि प्रिये, । “कमाना देहि में नित्य कामेश्वरी नमोस्तुते ।।”

कामाख्या सिन्दूर को कैसे प्राप्त करें ?

  • यदि आप भारत में ही हैं तो आप इसको दो तरीको से प्राप्त कर सकते हैं, पहला इसकी कीमत हमारे अकाउंट में डलवा कर दूसरा लिंक द्वारा अपने एटीएम, नेट बैंकिंग या क्रेडिट कार्ड से पेमेंट कर के ।
  • और यदि आप भारत के बाहर से हैं तो आप इसकी कीमत वेस्टर्न यूनियन से ट्रांसफर करके सिन्दूर को प्राप्त कर सकते हैं, भारत से बाहर भेजने के लिए कूरियर चार्जेज भी लगेंगे ।

किसी भी जानकारी के लिए निचे दिए गए फॉर्म से अपनी डिटेल भेजे हम आपको संपर्क करेंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *