What is Ganesh Rudraksha? Benefits and Uses

Ganesh-Rudraksha

भगवान शिव के रुद्राक्षों में से एक अत्यंत चमत्कारिक रुद्राक्ष है गणेश रुद्राक्ष। यह रुद्राक्ष भगवान गणेश का प्रतिनिधित्व करता है। इसे गणेश रुद्राक्ष इसलिए कहा जाता है क्योंकि इस रूद्राक्ष पर श्रीगणेश जैसी आकृति बनी होती है। इस रुद्राक्ष पर सूंड की तरह ही एक उभार होता है।

ऐसी मान्यता है कि इस रुद्राक्ष को धारण करने से विघ्न-बाधाओं का नाश होता है। साथ ही धन संपत्ति की भी प्राप्ति होती है। ऐसी मान्यता है की गणेश रुद्राक्ष को धारण करने से बाप्पा का आशीर्वाद प्राप्त होता है। इनकी कृपा दृष्टि को प्राप्त कर व्यक्ति की सभी समस्याओं का अंत हो जाता है। व्यक्ति को सुख भोगते हुए मोक्ष की प्राप्ति होती है।     

Ganesh-Rudraksha

गणेश रुद्राक्ष को धारण करने से भगवान गणेश के साथ उनके पिता भोलेनाथ की भी कृपा प्राप्त होती है। इस रुद्राक्ष को पूजा स्थान पर रखना और रोज़ पूजा करना शुभ माना जाता है।

गणेश रुद्राक्ष के लाभ

  • गणेश रुद्राक्ष को पहनने से क्‍लेशों से छुटकारा मिलता है। यह विशेष रुद्राक्ष स्वत: ही कई समस्याओं का समाधान करता है।
  • इस रूद्राक्ष को धारण करने से जीवन के सभी क्षेत्रों में व्यक्ति को सफलता प्राप्त होती है।
  • गणेश रुद्राक्ष को धारण करने से माता पार्वती और भगवान शंकर का भी आशीर्वाद प्राप्त होता है।
  • इस रुद्राक्ष को पहनने से केतु के नकारात्मक प्रभाव दूर होते है।
  • व्‍यक्‍ति की याद्दाश्‍त या एकाग्रता में कमी होने पर गणेश रुद्राक्ष धारण करना चाहिए। इसे धारण करने से व्यक्ति की याद्दाश्‍त और एकाग्रता बढ़ती है।
  • इस रुद्राक्ष को धारण करने से बाधाएं दूर होती है और ऋद्धि-सिद्धि की प्राप्ति होती है।

किसी भी जानकारी के लिए निचे दिए गए फॉर्म से अपनी डिटेल भेजे हम आपको संपर्क करेंगे ।